Sample Text

Chalti Patti

-- WELCOME TO BLOG :: THANK YOU FOR VISITING --

Saturday, August 15, 2015

15th August ane 26th January ma Anchorne helpfull

चलो फिर से खुद को जगाते हैं , अनुशासन का डंडा फिर से घुमाते हैं , सुनहरा रंग है गणतंत्र का शहीदों के लहू से , ऐसे शहीदों को हम सब सिर झुकाते हैं ..

दे सलामी इस तिरंगे को जिससे तेरी शान है . सिर हमेशा ऊँचा रखना इसका जब तक दिल में जान हैं ..

कुछ नशा तिरंगे की आन का है , कुछ नशा मातृभूमि की शान का है , हम लहरायेंगे हर जगह ये तिरंगा , नशा ये हिन्दुस्तां के सम्मान का है ..

वतन हमारा ऐसा कोई छोड़ ना पाये , रिश्ता हमारा कोई तोड़ ना पाये , दिल एक है हमारा और एक जान है , हिंदुस्तान हमारा है हम इसकी शान है ..

अब तक जिसका खून न खौला,वो खून नहीं वो पानी है जो देश के काम ना आये ,वो बेकार जवानी है बोलो भारत माता की जय.

कभी सनम को छोड़ के देख लेना, कभी शहीदों को याद करके देख लेना, कोई महबूब नहीं है वतन जैसा यारो, मेरी तरह देश से कभी इश्क करके देख लेना.. ***वंदे मातरम ***.

न सर झुका है कभी..और न झुकायेंगे कभी, जो अपने दम पे जियें...सच में ज़िन्दगी है वही. स्वतंत्रता दिवस की बधाई...

आज़ादी की कभी शाम ना होने देंगे , शहीदों की कुर्बानी बदनामी ना होने देंगे , .बच्ची है जो एक बूंद भी लहू की तब तक भारत माँ का आँचल नीलाम ना होने देंगे !.

आओ देश का सम्मान करें , शहीदों की शहादत याद करें , एक बार फिर से राष्ट्र की कमान हम हिंदुस्थानी अपने हाथ धरें . आओ स्वतंत्रता दिवस का मान करे !.

मेरी धडकनो में धडकता रहे तु , मेरे देश तुझको नमन है मेरा, जीऊं तो जुबां पर तेरा नाम हो मरूं तो तिरंगा कफन हो मेरा।.

No comments:

Post a Comment